ये दुनिया का दर्द है

हॉलीवुड की मशहूर तारिका हैं शैरोन स्टोन। दुनिया भर में इनके प्रशंसक इनकी फिल्मों के दीवाने हैं। लेकिन इतनी मशहूर फनकार होते हुए भी उनसे इतनी बचकानी नासमझी की उम्मीद किसी को नहीं रही होगी। कॉन फिल्म समारोह के दौरान बातों ही बातों में शेरोन ने कह डाला, चीन में भूकंप और तबाही उसकी करनी का नतीजा हैं। उनके मुताबिक दूसरों के साथ बुरा करने वाले का हश्र भी बुरा ही होता है। शेरोन का निशाना चीन की तिब्बत नीति पर था। तिब्बतियों से उनका अनुराग तो समझ में आता है पर लाखों निरीह चीनियों के प्रति उनका संवेदनशील मन इतना कठोर कैसे हो सकता है? या फिर ये संवेदनशीलता तथाकथित है।

हॉलीवुड की चमक-दमक में चुंधियाए सेलिब्रेटीज़ का ज़मीन से दो इंच ऊपर चलना कोई बड़ी बात नहीं है। कुछ गंभीर विचार भी यहां से निकले हैं लेकिन ज्यादातर सांसारिक मामलों में हॉलीवुड की सोच सतही ही रहती है। अब चीन सत्ता प्रतिष्ठान से विरोध की बात समझी जा सकती है, नीतियों से दुराव हो सकता है, विचारधारा की कटु आलोचना मुनासिब है लेकिन प्राकृतिक आपदा के लिए नीतियां कैसे जिम्मेदार हो सकती हैं। तिब्बत में मानवाधिकारों के हनन से तो सबको सहानुभूति है। लेकिन अगर आम चीनी मर रहा है तो इससे तिब्बत खुश कैसे हो सकता है। इससे तो शेरोन जैसी सतही सोच ही खुश हो सकती है।

एक बार को अगर ये मान भी लिया जाय तो कुतर्क के कई रास्ते हो सकते हैं। क्या शेरोन कभी ये कहने की हिम्मत दिखा सकती हैं कि अमेरिकी में जब केटरीना और रीटा ने तबाही मचाई थी उसके लिए अमेरिका द्वारा इराक में किए गए कुकर्म जिम्मेदार थे। केरोलीना जब उजड़ रहा था तब उसके पीछे अमेरिकी के अफगानिस्तान, सोमालिया से लेकर दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में किए गए दुष्कर्म अपनी भूमिका निभा रहे थे। बहरहाल ये तो कुतर्क हैं इनका कोई अंत नहीं। पर एक छोटी समझ की आशा तो इतनी बड़ी हस्ती से की ही जा सकती है कि अमेरिकी मानवता, तिब्बति मनुष्यता या फिर चीनी इंसानियत में कोई फर्क नहीं होता। पूरी दुनिया की मानवता का एक ही दर्द है, जब प्रकृति अपना कोप बरसाती है तो वो अमेरिका-चीन में भेद नहीं करती। विरोध विचारधारा से, संस्थान से होता है व्यक्ति से नहीं।

अतुल चौरसिया

Advertisements

1 टिप्पणी

Filed under dunia meri nazar se

One response to “ये दुनिया का दर्द है

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s